PHQ मतलब हो गया है कांग्रेस का पॉलिटिकल हेडक्वॉटर, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कौशिक पुलिस की एकतफरा कार्रवाई पर उठाया सवाल।

IMG-20201021-WA0005
IMG-20201021-WA0005
previous arrow
next arrow

 

 

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि प्रदेश में पुलिस की भूमिका पर लगातार प्रश्न चिन्ह उठ रहा है। जिस तरह से पुलिस के द्वारा कुछ अधिकारी भाजपा के कार्यकर्ताओं पर पुलिसिया दमन किया जा रहा हैं इससे लगता है कि प्रदेश का पुलिस हेडक्वॉटर (पीएचक्यू) एक तरह से कांग्रेस का पॉलिटकल हेडक्वॉटर का रूप ले चुका है। जहां से ही भाजपा कार्यकर्ताओं को फंसाने की योजना बनाई जाती है। उन्होंने कहा कि पूर्व दिनों में कई कार्यकर्ताओं पर फर्जी अपराधिक मामले बनाकर जेल भेज दिया गया है। इस तरह की कार्रवाई लगातार बढ़ती जा रही है। इस पूरे मामले में पुलिस के कई आलाधिकारियों की भूमिका संदेहास्पद है। जिसका हम समय आने पर जवाब देंगे।जिस तरह से प्रदेश में लगातार अपराधिक घटनाएं बढ़ रही है। उस पर अंकुश लगाने के दिशा में पुलिस कुछ भी करने में नाकाम है। प्रदेश में पुलिस कांग्रेस का टूल बनकर काम कर रही है। जिससे हमारे कार्यकर्ताओं को जरा भी भयभीत होने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के पुलिस महकमा के जिम्मेदार अधिकारी जिस तरह से भाजपा के कार्यकर्ताओं के खिलाफ राजनैतिक षड़यंत्र को रचने में लगे हैं।जिसका भाजपा विरोध करती है।

 

 

 

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कौशिक ने कहा कि राजनांदगांव पुलिस ने जिस तरह से आरटीआई सेल के कार्यकर्ता जयराम दुबे पर गलत तरीके कार्रवाई करके उसे राजनैतिक रंग देने का कोशिश कर रही हैं वह निंदनीय है।जिले की पुलिस की भूमिका कांग्रेस के पुलिस विंग तरह है। जिसके द्वारा कांग्रेस नेताओं की दी गयी कथित जानकारी को दुहराया जा रहा है। प्रदेश के कुछ पुलिस अधिकारियों को शासकीय सेवा संहिता के आचरण व सीमा रहकर अपनी सेवाएं देना चाहिये, सही समय पर भाजपा का प्रत्येक कार्यकर्ता नहीं तो उन्हें करारा जबाव देंगे।