मुस्लिम ‘धर्म गुरू’ की गोली मारकर हत्या, पुलिस ने एक शख्स को पकड़ा, तीन हिरासत में

IMG-20201021-WA0005
IMG-20201021-WA0005
previous arrow
next arrow

महाराष्ट्र के नासिक जिले में मुस्लिम समुदाय के धर्मगुरु की हत्या का मामले में पुलिस ने एक शख्स को पकड़ा है साथ ही तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है. जानकारी के मुताबिक 35 साल के सूफी संत की गोली मारकर हत्या कर दी गई. बताया जा रहा है कि ये सूफा बाबा (Sufi Baba) अफगानिस्तान (Afghanistan) के रहने वाले थे. पुलिस के मुताबिक इस घटना को 4 लोगों ने अंजाम दिया है. हत्या की ये घटना येओला (Yeola) तालुका के चिचोंडी एमआईडीसी (MIDC) इलाके में हुई है.

 

 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अफगान नागरिक सूफी ख्वाजा सैयद जरीब चिश्ती (Khwaja Sayyad Chishti) की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इनकी उम्र करीब 35 साल थी. पुलिस हत्यारों की तलाश में जुटी है. मामले में तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है.

 

नासिक में सूफी संत की क्यों हुई हत्या?

 

 

महाराष्ट्र के नासिक जिले में अफगानिस्तान के रहने सूफी संत की गोली मारकर हत्या कर दी गई. येओला तालुका के चिचोंडी एमआईडीसी इलाके में वारदात को अंजाम दिया गया है. हालांकि अभी तक हत्या की वजह सामने नहीं आई है. मृतक का नाम सूफी ख्वाजा सैयद जरीब चिश्ती बताया जा रहा है. इस वारदात को 4 लोगों ने अंजाम दिया है. हत्या के बाद चार अज्ञात शख़्स फोर व्हीलर गाड़ी में फरार हो गए. स्थानीय एसपी सचिन पाटिल के मुताबिक सूफी संत कल शहर में दो तीन जगह पर गए थे और खाना भी खाए थे. पुलिस ने हत्या के मामले में एक शख्स को पकड़ा है. इस मामले में 3 लोगों को हिरासत में लिया गया है. प्रोपर्टी को लेकर विवाद में हत्या की आशंका जताई जा रही है.

 

 

क्या आर्थिक विवाद के चलते हुई हत्या?

 

 

महाराष्ट्र (Maharashtra) के नासिक (Nashik) में सूफी बाबा की हत्या (Sufi Baba Murder) की वजह अभी साफ नहीं हो पाई है. पुलिस को आर्थिक विवाद के चलते हत्या की आशंका जता रही है. प्रारंभिक जानकारी है कि सूफी ख्वाजा सैयद जरीब चिश्ती एक अफगान मौलवी है. पुलिस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है. हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस हत्यारों की तलाश में छानबीन कर रही है.

 

 

(News सोर्स एबीपी न्यूज)