बड़ा हादसा = रायपुर जबलपुर हाईवे पर 50 बाइक गिरी 70 से अधिक लोग घायल, कार भी टकराई चट्टान से।

IMG-20201021-WA0005
IMG-20201021-WA0005
previous arrow
next arrow

 

रायपुर- जबलपुर नेशनल हाईवे- 30 पर गुरुवार दोपहर 12 बजे हड़कंप मच गया। एक के बाद एक बाइक सवार गिरने लगे। कारें व अन्य चारपहिया वाहन बेकाबू होकर कहीं आपस में, तो कहीं रोड किनारे चट्टानों व गार्डवाल से टकराने लगे। दिनभर में 70 से ज्यादा लोग जख्मी हुए। कई को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

 

गिरते- फिसलते लोगों की सूचना बोड़ला पुलिस को लगी। मौके पर पहुंचे, तो पाया कि पूरे हाईवे पर ऑयल फैला हुआ है। रायपुर से मध्यप्रदेश की ओर गए ऑयल टैंकर में लीकेज के कारण ऑयल पूरे हाईवे पर फैला था। इससे बोड़ला स्थित वन डिपो (काष्ठागार) से 20 किमी दूर चिल्फी घाटी तक हाईवे फिसलन बढ़ गई। चिकनाई के कारण हाईवे पर आना- जाना कर रहे बाइक सवार फिसलकर गिरने लगे। फिसलने से बाइक व कार सवार 70 से अधिक लोग घायल हुए हैं। ज्यादातर को मामूली चोंट आई है। 10 से अधिक लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए, जिन्हें डॉयल 112 की मदद से सामुदायिक अस्पताल बोड़ला में इलाज के लिए पहुंचाया गया है।

 

सड़क पर जवान तैनात, चालकों को देते रहे समझाइश

फिसलने से बाइक सवार लगातार गिर रहे थे। इस पर बोड़ला और चिल्फी थाने की पुलिस फौरन हरकत में आई। पूरे हाईवे पर पुलिसकर्मी तैनात कर दिए गए। डॉयल 112 के चार वाहन भी तैनात रहे। हाईवे पर हर आने- जाने वाले चालकों को वाहन धीरे चलाने की समझाइश देते रहे। ताकि वे फिसलकर न गिरे। खुद बोड़ला टीआई रमाकांत तिवारी हाईवे के बीच खड़े होकर ट्रैफिक कंट्रोल करने में लग गए।

 

मौके पर नहीं पहुंची एनएच विभाग की टीम

हाईवे की देखरेख व मेंटेनेंस का जिम्मा एनएच विभाग पर है। टैंकर में लीकेज से ऑयल सड़क पर फैलने पर हादसे होने लगे। लेकिन एनएच विभाग के अफसर या कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचे। सिमगा से कवर्धा व कवर्धा से चिल्फी तक 400 करोड़ से हाईवे पर टू-लेन सड़क बनी है।

 

रायपुर जा रहे थे 6 लोग, चट्टानों से टकराई गाड़ी, 3 गंभीर

मध्यप्रदेश के भाई-बहिनी नाला से रायपुर जा रहे 6 लोग हाईवे पर फिसल का शिकार हो गए। गुरुवार दोपहर डेढ़ बजे वाहन से 6 लोग रायपुर जा रहे थे। हाईवे पर दतिलहा के पास मोड़ पर फैले ऑयल के कारण वाहन बेकाबू होकर चट्टान से टकरा गया। हादसे में ड्राइवर समेत 3 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। डॉयल 112 की मदद से घायलों को सामुदायिक अस्पताल बोड़ला पहुंचाया गया, जहां उनका उपचार हुआ। घायलों में वाहन चालक जग्गू सिंह, पुन्नू राम और सुरेश मेरावी शामिल हैं।

 

हाईवे पर जहां तक ऑयल फैला था, वहां बिछवाए मुरुम

ट्रैफिक व्यवस्था संभालने के बाद भी नेशनल हाईवे पर फिसलन से वाहन चालक गिर रहे थे। गंभीर हादसा न हो, इसलिए पुलिस ने तरकीब लगाई। दोपहर करीब साढ़े 3 बजे जेसीबी के जरिए मुरुम मंगाया गया। हाईवे पर जहां तक ऑयल फैला था, वहां मुरुम बिछवाए गए। ताकि सड़क पर चिकनाई को दूर कर सकें।