अपने बच्चे के बेहतर भविष्य के लिए इन आदतों को आज ही छोड़ें, रखें इन बातों का खास ख्याल

IMG-20201021-WA0005

कहते हैं कि दुनिया में सबसे मुश्किल और जिम्मेदारी भरा काम है बच्चों की सही परवरिश करना. आपकी छोटी सी गलती भी बच्चों के कोमल मन पर बहुत बुरा प्रभाव डाल सकती है. कहते हैं बच्चों के साथ प्यार और विश्वास का रिश्ता बनाने के लिए आपको कुछ ऐसी गलतियां है जिसे करने से बचना चाहिए. यह गलतियां आपके बच्चे की ग्रोथ पर बहुत बुरा प्रभाव डाल सकती है. तो चलिए जानते हैं उन गलतियों के बारे में-

 

दूसरों के बच्चों से ना करें तुलना

ज्यादातर भारतीय घरों में यह आम बात है कि लोग अपने बच्चों को दूसरों के साथ तुलना जरूर करते हैं. तुलना करने से बच्चों के आत्मविश्वास में कमी आती है और उनका स्वाभिमान कमजोर पड़ जाता है. उनकी योग्यतों पर भी इसका बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है. पेरेंट्स को यह समझने की जरूरत है कि हर बच्चा अलग होता और सभी क्षमता भी अलग होती है.

 

 

बात-बात पर टोकना

कई बार पेरेंट्स अनजाने में ही सही अपने बच्चों पर बहुत सख्त हो जाते हैं. वह उन्हें हर बात पर रोकना टोकना शुरू कर देते हैं. बच्चों को सही और गलत के बीच का फर्क समझाने की जरूरत है लेकिन, हर बात पीछे रोकने से उनका आत्मविश्वास खत्म हो जाता है. उन्हें लगने लगता है कि वह कोई भी काम ठीक से नहीं कर सकते हैं. कोशिश करें कि उनके मन में ऐसी फीलिंग ना उत्पन्न ना हो.

 

 

बच्चों को समय न देना

आजकल की दौड़ती भागती जिंदगी में हर कोई अपने काम को लेकर परेशान है. ऐसे में कई बार माता-पिता के पास अपने बच्चों के लिए समय नहीं होता है. ऐसे में बच्चे अपने आपको अकेला और बेसहारा महसूस करने लगते हैं. अकेले रहने के कारण वह एंजाइटी और डिप्रेशन का भी शिकार हो जाते हैं. कोशिश करें कि बच्चों के साथ क्वालिटी टाइम जरूर स्पेड करें.

 

 

बच्चों का डेली रूटीन न सेट करना

कई बार माता-पिता अपनी लाइफ में इतना बिजी हो जाते हैं कि वह अपने बच्चों के डेली रूटीन को सेट नहीं कर पाते हैं. आपको यह समझने की जरूरत है कि अपने बच्चे को आपकी मदद की जरूरत है. यह आपकी जिम्मेदारी है कि बच्चों को नियम-कानून सिखाएं. उन्हें सेहत और सुरक्षा से जुड़ी हर बात से अवगत कराएं.

 

 

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की युग न्यूज़ पुष्टि नहीं करता है. इनको केवल सुझाव के रूप में लें. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें