Cyclone Gulab: कमजोर पड़ा चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’, आंध्र में दो मछुआरों की मौत, आज और कल मुंबई पर दिखेगा असर

IMG-20201021-WA0005

चक्रवाती तूफान गुलाब रविवार की रात ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटों से टकराया। तूफान के टकराने के बाद समंदर में ऊंची-ऊंची लहरें उठीं और कई इलाकों में तेज बारिश भी हुई। इस दौरान तूफान की चपेट में आने से आंध्र प्रदेश के दो मछुआरों की मौत हो गई। वहीं, ओडिशा में करीब 39000 लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। बताया जा रहा है कि आज और कल इस तूफान का आफ्टर इफेक्ट देश की आर्थिक राजधानी मुंबई पर दिखाई दे सकता है।

आंध्र प्रदेश में दो मछुआरों की मौत

आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले के रहने वाले दो मछुआरों की रविवार शाम को बंगाल की खाड़ी में उठे ‘गुलाब’ तूफान की चपेट में आने से मौत हो गई जबकि एक अब भी लापता है। वहीं, तीन अन्य मछुआरे सुरक्षित तट पर लौट गए हैं। संयुक्त कलेक्टर सुमित कुमार ने कहा, ‘जिला प्रशासन ने लगभग 61 राहत केंद्र खोले हैं और 1100 लोगों को इन केंद्रों में रखा गया है।’

कमजोर पड़ा चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’

मौसम विभाग, भुवनेश्वर ने देर रात बताया कि ‘चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ कलिंगपट्टनम (आंध्र प्रदेश में) से 20 किमी उत्तर में पार कर गया। मौसम विभाग के मुताबिक, ‘चक्रवात ‘गुलाब’ ने लगभग आधी रात को ओडिशा के कोरापुट जिले में प्रवेश किया और उसके 6 घंटे बाद यानी सोमवार सुबह तक कमजोर होकर कम दबाव के क्षेत्र में बदल गया है। ओडिशा के कोरापुट, रायगडा और गजपति जिलों में भारी बारिश की संभावना है और हवा की गति 50 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे रहेगी।

 

 

ओडिशा में 39000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया

ओडिशा के एसआरसी पीके जेना ने बताया कि चक्रवात गुलाब की वजह से ओडिशा के गजपति, रायगडा और कोरापुट जिलों में आज रात बारिश बढ़ सकती है। अब तक कुल 39000 लोगों को निकाला जा चुका है। वहीं, ओडिशा के मौसम विभाग ने बताया था, ‘चक्रवात गुलाब कलिंगपट्टनम उत्तर से क्रॉस हुआ है और रात 8:30 बजे उत्तरी आंध्र प्रदेश पर केंद्रित था। अगले 6 घंटों में चक्रवात गुलाब कमजोर होकर डीप डिप्रेशन में बदलने की संभावना है।

 

मुंबई पर दो दिनों तक रहेगा असर

मौसम का आकलन करनेवाली निजी संस्था के प्रमुख वैज्ञानिक महेश पलावत ने बताया कि गुलाब चक्रवात का असर मुंबई में 26 सितंबर से देखने को मिलेगा। रविवार को हल्की बारिश होगी लेकिन सोमवार और मंगलवार को मुंबई के कई इलाकों में मूसलाधार बारिश होगी। 27 और 28 सितंबर को मुंबई में हवा के साथ तेज बारिश होगी

 

 

इन इलाकों पर सबसे ज्यादा असर

मौसम विभाग के अनुसार, मुंबई और महाराष्ट्र में अगले 12 घंटों में तूफान बनने की संभावना है। इसलिए विदर्भ, मराठवाडा और मध्य महाराष्ट्र में मूसलाधार बारिश की संभावना है। इसका असर कोंकण और मुंबई में दिखेगा। बारिश की तीव्रता 26 सितंबर से 29 सितंबर तक रहेगी