अगर आपमें भी हैं ये 4 बुरी आदतें तो तुरंत बदल लें, आगे चलकर सेहत के लिए बन सकती हैं खतरा

IMG-20201021-WA0005
IMG-20201021-WA0005
previous arrow
next arrow

भागदौड़ भरी इस जिंदगी में कुछ लोग बुरी आदतों को पाल लेते हैं, जो एक वक्त के बाद सेहत के लिए घातक हो जाती हैं. समय रहते इन बुरी आदतों को सुधारा नहीं गया तो बाद में पछताने के अलावा कुछ हाथ नहीं रहता, क्योंकि ये आदतें आपको कई बीमारियों का शिकार बना सकती हैं. इस खबर में हम आपके लिए कुछ ऐसी आदतों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आप तुरंत बदल लें तो ही बेहतर रहेगा.

डाइट एक्सपर्ट डॉक्टर रंजना सिंह कहती हैं कि एक हेल्दी शरीर के लिए हेल्दी डाइट लेना जरूरी है. इसके अलावा आपको अल्कोहल, धूम्रपान का सेवन छोड़ना चाहिए. अगर आप कम नींद ले रहे हैं तो इस आदत को भी बदल लें. हमेशा सेहतमंद रहने के लिए पानी ज्यादा से ज्यादा पीना चाहिए. नीचे जानिए उन आदतों के बारे में जिन्हें जल्द छोड़ देना चाहिए…

 

1. अल्कोहल का सेवन

 

 

डॉक्टर रंजना सिंह कहती हैं कि अल्कोहल एक ऐसी चीज है, जो न सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक सेहत पर भी बुरा असर डालती है. शराब का सेवन सेहत के लिए हानिकारक होता है, यह न सिर्फ लिवर खराब करती है, बल्कि ये हृदय रोग, डिप्रेशन और कैंसर जैसी खतरनाक बीमारियों का कारण भी बन सकती है. इसलिए अगर आप शराब का सेवन करते हैं तो इस आदत को तुरंद बदल लें.

 

 

2. धूम्रपान का सेवन करना

 

डाइटिशियन डॉक्टर रंजना सिंह की मानें तो स्मोकिंग यानी धूम्रपान सेहत के लिए बेहद हानिकारक होता है. लंबे समय तक इसका सेवन करने पर यह कैंसर जैसी गंभीर बीमारी का कारण बन सकता है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, 80-90 फीसदी लोगों को फेफड़ों का कैंसर धूम्रपान की वजह से ही होता है. इसलिए बेहतर है कि सिगरेट या बीड़ी समय रहते छोड़ दें, नहीं तो ये आपके लिए जानलेवा साबित हो सकता है.

 

 

3. अधिक पेन किलर्स का सेवन

 

 

हम देखते हैं कि थोड़ा सा भी दर्द होने पर लोग तुरंद पेन किलर्स खा लेते हैं, जबकि ऐसा करना ठीक नहीं है. लंबे समय तक पेन किलर्स का इस्तेमाल सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है. इससे हाई ब्लड प्रेशर (उच्च रक्तचाप) और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है. इसलिए अधिक मात्रा में पेन किलर्स का सेवन न करें.

4. समय पर सोएं और अच्छी नींद लें

 

 

कुछ लोग देर रात तक जगते हैं और फिर पूरी नींद भी नहीं ले पाते. अगर आप भी ऐसा करते हैं तो सावधान हो जाएं. क्योंकि कम नींद लेने से सेहत पर असर पड़ता है. इससे इंसान के व्यवहार में चिड़चिड़ापन आने लगता है, साथ ही डिप्रेशन की समस्या भी बढ़ जाती है. इसके अलावा कम नींद हाई ब्लड प्रेशर की समस्या भी पैदा कर सकता है. इसलिए बेहतर है कि सोने का समय फिक्स कर लें और कम से कम आठ घंटे की नींद जरूर लें

 

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.