वैक्सीन की दोनों डोज लगने के बाद भी प्रदेश के इस जिले के कोविड प्रभारी डॉक्टर की मौत।

IMG-20201021-WA0005
IMG-20201021-WA0005
previous arrow
next arrow

बलौदाबाजार जिला के कोविड सेंटर प्रभारी डॉ शैलेन्द्र साहू की सोमवार की सुबह इलाज के दौरान मौत हो गई।35 वर्षीय डॉ साहू के मौत की खबर ने स्टाफ के लोगों को स्तब्ध करके रख दिया है।

 

मिली जानकारी के अनुसार रविवार की शाम को डॉ शैलेन्द्र साहू की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी थी जिसके बाद उन्होंने स्टाफ़ को जानकारी देते हुए आराम करने लगे थे।

आराम के बाद अचानक हालात बिगड़ने पर उन्हें वेंटिलेटर लेटर में रखा गया था लेकिन सोमवार की सुबह उनकी मौत हो गयी। हजारों लोगों को कोविड जैसे गंभीर बीमारी से स्वास्थ्य करने वालें डॉक्टर साहू स्वयं इसका शिकार हो गए और अपनी जिंदगी की जंग हार गए।डॉ साहू ने कोरोना वैक्सीन के दोनो डोज भी लगवा चुके थे।रायपुर के निवासी डॉ साहू के मौत के खबर के बाद उनके परिजन को दे दी गईं है।रायपुर में उनका अंतिम संस्कार किया जावेगा।

 

जिला अस्पताल में कोरोना से पीड़ित हजारों लोगों को जीवनदान को डॉक्टर शैलेंद्र साहू ने कोरोना के दूसरी लहर में जिला कॉविड अस्पताल के प्रभारी होने के नाते डॉक्टर साहू ने हजारों लोगों को उपचार कर जीवनदान दिया जो आज खुद कोरोना का शिकार हो गया और बहुत ही कम उम्र में उसकी मौत हो गई ।