करोना वैक्सीन- शराब प्रेमियों के लिए बुरी खबर वैक्सिंग के लिए रखना होगा शराब से दूरी

विशेषज्ञों ने कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीन का इस्तेमाल करनेवालों को शराब सेवन से मना किया है. उन्होंने चेताया है कि कोविड-19 वैक्सीन का डोज ले चुके लोगों को अल्कोहल से परहेज करना चाहिए क्योंकि अल्कोहल वैक्सीन के लिए शरीर के इम्यून रिस्पॉन्स को कम कर सकता है. इमरजेंसी मेडिसीन विशेषज्ञ डॉक्टर रोनेक्स इखारिया ने अल्कोहल पर प्रयोग किया. उन्होंने तीन ग्लास पीने से पहले और तीन ग्लास पीने के बाद लोगों का ब्लड सैंपल लिया. उनका मकसद ये जानना था कि अल्कोहल शरीर के इम्यून रिस्पॉन्स पर क्या असर डालता है.

कोविड-19 वैक्सीन इस्तेमाल करनेवालों को वैज्ञानिकों की चेतावनी

शोधकर्ताओं ने बताया कि अल्कोहल आंत में पाए जानेवाले अरबों सूक्ष्मजीवों की बनावट को बदल देता है. ये बैक्टीरिया और वायरस के हमले को रोकने में अहम भूमिका निभाते हैं. इससे ब्लड में इम्यून कोशिकाओं को नुकसान पहुंचता है जिसे सफेद रक्त कोशिकाओं के नाम से जाना जाता है और उसमें लिम्फोसाइट्स भी शामिल है.







ये एंटी बॉडीज को किसी वायरस पर हमला करने के लिए भेजते हैं. यूनिवर्सिटी ऑफ मैनचेस्टर में इम्यूनोलोजिस्ट के प्रोफेसर शीना क्रूकशान्क ने कहा, “लिम्फोसाइट्स में कमी शरीर के इम्यून रिस्पॉन्स के असर को कम कर सकती है.”


अल्कोहल वैक्सीन के लिए शरीर के इम्यून रिस्पॉन्स को कम कर सकता है


इसलिए उन्होंने कोविड-19 टीकाकारण के दौरान अल्कोहल नहीं पीने का आग्रह किया. उन्होंने बताया कि वैक्सीन के लिए अच्छा रिस्पॉन्स होने की जरूरत है, इसलिए अगर आप वैक्सीन लेने से पहले रात में या वैक्सीन लेने के थोड़ी देर बाद अल्कोहल पी रहे हैं, तो इससे मदद नहीं मिलेगी.


चीनी वैज्ञानिकों के मुताबिक लिम्फोसाइट्स इम्यून सिस्टम में ‘बुनियादी महत्व’ के होते हैं और संक्रामक सूक्ष्मजीवों और दूसरे बाहरी घटकों जैसे कोरोना वायरस के प्रति प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया निर्धारित करते हैं. हद से ज्यादा अल्कोहल एक ऐसी देवा के तौर पर काम करता है जो शरीर के सामान्य इम्यून रिस्पॉन्स को कम करता है. डॉक्टर रोनेक्स इखारिया ने बताया कि तीन ग्लास लिम्फोसाइट्स सेल्स का असर कम करने के लिए 50 फीसद तक काफी साबित हुए.

Leave a Reply