फेक न्यूज़-साईं बाबा ट्रस्ट ने राम मंदिर को चंदा देने से किया इनकार कहा यह दूसरे धर्म का मामला है। जानिए सच

IMG-20210828-WA0014
IMG-20210828-WA0016
IMG-20210828-WA0017
C1FECB16-374E-4F72-88E4-3B97BA9DA4B7
previous arrow
next arrow

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक पीठ का फैसला आने के बाद से राम मंदिर से जुडी हुई कई पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हुईं। कभी अफ़ग़ानिस्तान और तुर्की की तस्वीरों को बाबरी मस्जिद की बता कर वायरल किया गया तो कभी अक्षय कुमार के नाम से राम मंदिर निर्माण के लिए पैसे देने की बात फैलाई गयी। अब इसी तरह सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है जिसमें यह दावा किया जा रहा है की शिरडी साईं ट्रस्ट ने राम मंदिर के निर्माण के लिए पैसे देने से इनकार कर दिया है।

विश्वास टीम ने वायरल दावे की पड़ताल की तो पाया की ऐसा कोई बयान ट्रस्ट की तरफ से जारी नहीं किया गया है। इस मामले की पुष्टि के लिए हमने शिरडी साईं ट्रस्ट के सीईओ (चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर) दीपक मदुलकर मुगलिकार से बात की और उन्होंने बताया कि वायरल किया जा रहा दावा पूरी तरह से फ़र्ज़ी है।



क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक ग्रुप पर एक पोस्ट शेयर की गयी है जिसमे लिखा है, ”शिरडी साईं ट्रस्ट ने कहा की राम मंदिर दूसरे धर्म का मामला है….. हम वह कुछ भी नहीं दे सकते। हिन्दुओं आँखे खोलो। ”

इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर मिलते-जुलते फ़र्ज़ी दावे के साथ बहुत-से यूजर शेयर कर रहे हैं।

पड़ताल

सबसे पहले हमने गूगल पर shirdi sai trust on ram mandir कीवर्ड डाल कर न्यूज़ सर्च किया। तमाम जद्दोजहद के बाद भी हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली, जिसमें ऐसा कुछ कहा गया हो।

अब हमने ट्विटर पर शिरडी साईं ट्रस्ट के वेरिफाइड अकाउंट को तलाशना शुरू किया, लेकिन हमें इस नाम से कोई अकाउंट वेरिफाइड यानी ब्लू टिक वाला नज़र नहीं आया।

तमाम जगह दावे के तथ्यों को तलाश करने के बाद भी हमारे हाथ कोई सबूत नहीं लगा तो हम सीधे शिरडी साईं ट्रस्ट की ऑफिशियल वेबसाइट sai.org.in पर गए और वहां हमने इस मामले की पुष्टि के लिए शिरडी साईं ट्रस्ट के सीईओ (चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर) दीपक मदुलकर मुगलिकार से बात की। उन्होंने बताया, “ट्रस्ट की तरफ से राम मंदिर निर्माण के लिए पैसा देने या ना देने को लेकर ऐसा कोई भी ऑफिशियल बयान जारी नहीं किया गया है, वायरल किया जा रहा दावा पूरी तरह से फ़र्ज़ी है”।

(न्यूज सोर्स- विश्वास news/ lallantop.com)