इस विश्व प्रसिद्ध मंदिर में आज से भगवान दर्शन देंगे अपने भक्तों को, जानिए क्या रहेंगे नियम।





कोरोना वायरस की वजह से बंद हुए ओडिशा का पुरी जगन्नाथ मंदिर आज से भक्तों के लिए खुल गया है। इस मंदिर में प्रतिदिन 5 हजार भक्त दर्शन कर सकते हैं। लेकिन मंदिर में बहारी लोग 3 जनवरी 2021 से दर्शन कर सकेंगे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मंदिर प्रशासक समिति और जिला प्रशासन की तरफ से कहा गया है कि बाहर से आए भक्त कोविड-19 टेस्ट के बाद ही मंदिर में एंट्री कर पाएंगे।

यह पहली बार है कि आज से 23 दिसंबर से 3 दिन मंदिर के सेवक पंडा (पुजारी) और उनके परिवार के सदस्य ही मंदिर में जा सकेंगे। इसके अगले 6 दिन सिर्फ पुरी नगर निगम क्षेत्र के लोगों को इजाजत होगी। बताया जा रहा है कि अलग-अलग वार्ड के लोग अलग दिन और समय पर अंदर जाकर दर्शन कर पाएंगे।

25 मार्च से था मंदिर बंद

जानकारी के लिए आपको बता दें कि देश में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए 24 मार्च से लॉकडाउन लगा दिया था। जिसके एक दिन बाद यानी 25 मार्च से श्री जगन्नाथ मंदिर को बंद कर दिया गया था। अब करीब 9 महीने बाद मंदिर भक्तों के लिए खुला है।

श्री जगन्नाथ मंदिर ट्रस्ट के प्रभारी जनसंपर्क अधिकारी जितेंद्र मोहंती ने कहा कि आज से मंदिर को दर्शन के लिए खोला गया है। मंदिर में भीड़ न हो इसके लिए अलग-अलग लोगों को अलग-अलग दिन मंदिर एंट्री की इजाजत दी जाएगी। पहले दिन यहां मंदिर से जुड़े सेवक पंडा जिनकी संख्या करीब 2500 है, उन्हें व उनके परिवार वालों को 23 से 25 दिसंबर तक भगवान के दर्शन की अनुमति दी गई है।

इसके बाद 26 से 31 दिसंबर यानी 6 दिन तक पुरी के 32 वार्ड में रहने वाले लोगों को ही दर्शन की इजाजत होगी। जबकि मंदिर 1 और 2 जनवरी 2021 को मंदिर बंद रहेगा। इसके बाद 3 जनवरी से मंदिर में बाहर के लोग प्रवेश कर सकेंगे। लेकिन उन्होंने 48 घंटे पुरानी कोविड-19 टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट अपने पास रखनी होगी। तभी मंदिर में प्रवेश मिलेगा।

Leave a Reply