करोना काल में भी रिश्वतखोरी 2500 की रिश्वत लेते बाबू गिरफ्तार।

IMG-20210828-WA0014
IMG-20210828-WA0016
IMG-20210828-WA0017
C1FECB16-374E-4F72-88E4-3B97BA9DA4B7
previous arrow
next arrow

हमारा पूरा प्रदेश करोना संकट से जूझ रहा है इस कठिन परिस्थिति में भी घूसखोर लोग बाज नहीं आ रहा है छोटे-छोटे कामों के लिए रिश्वतखोरी आम बात हो गई है ऐसा ही मामला सामने आया है। मामला बिलासपुर जिले का है।


एंटी करप्शन ब्यूरो के उप महानिरीक्षक आरिफ शेख के मार्गदर्शन में एवं पंकज चन्द्रा, पुलिस अधीक्षक, एसीबी के दिशानिर्देश पर भ्रष्टाचार रोधी कार्यवाही के अंतर्गत लगातार कार्रवाई की जा रही है. वहीं आज एसीबी बिलासपुर की टीम ने उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं, जांजगीर चांपा के कार्यालय में पदस्थ, सहायक ग्रेड-3 दीपक कुमार यादव को 2,500/रूपये की राशि रिश्वत लेते रंगे हाथो गिरफ्तार किया है। बता दें कि पीड़ित ने एसीबी बिलासपुर में शिकायत की थी कि वह पत्नी के ईलाज के लिए 1 लाख रूपये पार्ट फाइनल निकलवाने हेतु उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं,जांजगीर चांपा में आवेदन दिया है। जिसे स्वीकृत कराने के लिए कार्यालय में पदस्थसहायक ग्रेड-3 दीपक कुमार यादव द्वारा 5 हजार रूपये रिश्वत की मांग की जा रही है। जिस पर ACB ने प्लान बनाया और आरोपी सहायक ग्रेड-3 दीपक कुमार यादव को 2, 500 रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों धर दबोचा। आरोपी के विरूद्ध विधिक कार्यवाही पूर्ण कर न्यायिक रिमांड पर भेजी जा रही है।

Leave a Reply